ALL राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय खेल मध्यप्रदेश राज्य धर्म विचार-विमर्श टेक्नोलॉजी
वेतन और एरियर्स को लेकर नाराज़ नर्सिंग संवर्ग ने किया कार्य का बहिष्कार,मरीज होते रहे परेशान
November 16, 2019 • NEWS NETWORK VISHVA SATTA • मध्यप्रदेश



5 घंटे तक उपचार के लिए मरीज रहे परेशान, सीएमएचओ व सीएस ने दिया आश्वासन
अनूपपुर। शासन द्वारा तय किए गए की निर्धारित समय के बाद भी नर्सिंग संवर्ग के समयमान वेतनमान और एरियर्स के भुगतान नहीं होने से नाराज नर्सेस एसोसिएसन अनूपपुर के स्टॉफ नर्सो सहित अन्य ने १६ नवम्बर की सुबह ८ बजे सामूहिक रूप अवकाश लेते हुए कार्य का बहिष्कार किया है। इसके बाद सभी स्टॉफ परिसर में धरना पर बैठ गए। नर्सिंग स्टॉफों के अवकाश पर जाने के बाद अस्पताल में उपचार के लिए मरीज भटकते रहे वहीं कई मरीज बिना उपचार कराए ही वापस लौट गए। अस्पताल में नर्सिंग स्टॉफों के सामूहिक अवकाश की सूचना प्रशासन को दी गई, जहां जिपं सीईओ सरोधन सिंह, सीएमएचओ बीडी सोनवानी, पूर्व सीएमएचओ आरपी श्रीवास्तव और सिविल सर्जन डॉ. एससी राय ने मौके पर पहुंचकर स्टॉफों को मनाने का प्रयास किया। लेकिन स्टॉफों ने बिना लिखित आश्वासन कार्य पर वापस लौटने से इंकार कर दिया। जिपं सीईओ ने सीएमएचओ व सिविल सर्जन से पुराने प्रकरणो ंको तत्काल निराकरण करने के निर्देश देते हुए। स्टॉफों की समस्याओं को दूर करने को कहा। जिसके बाद सिविल सर्जन डॉ. एससी राय ने जिला अस्पताल के समस्त स्टॉफ नर्सो व अधिकारी कर्मचारियों के समयमान वेतनमान तथा ७वें वेतनमान के एरियर्स के दूसरे किश्त सहित अन्य का भुगतान ३० नवम्बर तक कराने का लिखित आश्वासन दिया। वहीं सीएमएचओ डॉ. बीडी सोनवानी ने जिले के समस्त स्टाफ नर्स व अधिकारी कर्मचारियों के ३१ दिसम्बर तक मांगों के भुगतान का लिखित आश्वासन दिया। दोनों अधिकारियों द्वारा दिए गए आश्वासन के बाद दोपहर स्टाफ नर्स व अन्य वापस काम पर लौटे। स्टाफ नर्सो के काम पर लौटने के बाद डॉक्टरों व अधिकारियों ने राहत की सांस ली। नर्सिंग संवर्ग स्टाफो का आरोप था कि इससे पूर्व कई बार लिखित रूप में प्रशासनिक अधिकारियों सहित सीएमएचओ व सिविल सर्जन को समस्या से अवगत कराया जा चुका है। बावजूद अधिकारियों ने इसपर कोई पहल नहीं की। वहीं इनकी अनदेखी में कई कर्मचारियों को दो-तीन दशकों से समयमान वेतनमान जैसी सुविधा का लाभ नहीं मिल सका है। जबकि शासन के निर्देश में ७ वें वेतनमान में मई माह के दौरान सालभर के दिए जाने वाले पांच किश्त में अबतक मात्र एक किश्त का भुगतान किया गया है। मई २०१९ में दूसरी किश्त नहीं मिल सकी है। 
पूर्व में १८ बिन्दूओं की मांगो का सौंपा था ज्ञापन
जानकारी के अनुसार पूर्व में नर्स एसोसिएसन अनूपपुर द्वारा उपरोक्त दोनों मांगों के साथ अन्य १८ बिन्दूओं की मांगो पर स्टाफ नर्सो की सुविधाओं व सुरक्षाओं के लिए ज्ञापन सौंपा था। जिसमें हर महीने 5 तारीख तक मासिक वेतन भुगतान, पे स्लिप ऑफिस में जमा किए जाने, गेटपास की जगह अतिथि गृह लागू किए जाने, मरीजों के मिलने का समय निर्धारित किए जाने, आईपीडी में सुरक्षा गार्ड की तैनाती, नर्सिंग स्टाफ के बच्चों के लिए झूला घर सहित अन्य बिन्दू शामिल की गई थी। लेकिन फिलहाल उसपर अमल नहीं किया जा सका है। 
इनका कहना है
स्टॉफ नर्सो के मांगो का निराकरण करने आश्वासन दिया गया है, उनके एरियर्स सहित वेतन का भुगतान नियत तिथि तक करा दिया जाएगा। 
डॉ. बीडी सोनवानी, सीएमएचओ अनूपपुर।