ALL राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय खेल मध्यप्रदेश राज्य धर्म विचार-विमर्श टेक्नोलॉजी
स्व. दादा महुरकर को बिलासपुर रेलवे मजदूर कांग्रेस ने दी श्रद्धांजलि
September 10, 2020 • विनोद पान्डेय • मध्यप्रदेश

अनूपपुर /नेशनल फेडरेशन इंडियन रेलवे मेन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं WRMS वेस्टर्न रेलवे मजदूर संघ ( इंटक ) के महामंत्री जे जी माहुरकर जी के निधन से मजदूरों के मसीहा को हमने खो दिया उक्त उदगार 09 सितंबर 2020 को रेलवे मजदूर कांग्रेस शाखा अनूपपुर कार्यायल में आयोजित शोक सभा में रेलवे मजदूर कांग्रेस बिलासपुर व कोयलांचल प्रभारी लक्ष्मण राव ने व्यक्त किया , उन्होंने स्वर्गीय दादा माहुरकर के जीवन पर प्रकाश डालते हुए बताया कि स्व.माहुरकर जी का जन्म 16 मार्च 1935 में महाकाल की नगरी उज्जैन में हुई , लगातार रेल मजदूर के हित में संघर्ष करते हुए वेस्टर्न रेलवे मजदूर संघ इंटक के महामंत्री एवं एन एफआईआर के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के रुप में निरंतर जीवन काल के अंतिम दिनों तक रेलवे कर्मचारियों हित में संघर्ष किया , वर्ष 28 व 29 अप्रैल 2009 को अहमदाबाद के पालड़ी में ट्रैकमैन के राष्ट्रीय अधिवेशन कर एन एफआईआर के राष्ट्रीय महामंत्री एम राघवैया जी के सहयोग से भारतीय रेल में ट्रैकमैन के पिता के बदले पुत्र को नौकरी का नियम में संशोधन कर लाखों रेल कर्मचारियों के बच्चों को रेल में लारजेंस स्किम के तहत नौकरी दिलाईरेलवे मजदूर कांग्रेस शाखा अनूपपुर के सचिव रामदास राठौर ने बताया कि की दिनांक 08 सितंबर मजदूर मसीहा माहुरकर जी का निधन बड़ोदरा में हो गया , रेलवे मजदूर कांग्रेस बिलासपुर के महामंत्री के एस मूर्ति व मंडल समन्यवक बी कृष्ण कुमार के निर्देश में अनूपपुर रेलवे मजदूर कांग्रेस शाखा कार्यालय में शोकसभा कर राष्ट्रीय रेल मजदूर नेता स्व. जे जी महुरकर जी को दीप जलाकर कर पुष्पांजली अर्पित कर श्रद्धांजलि दी गई शोक सभा में कमलनाथ सद्भावना मंच के अनूपपुर जिला अध्यक्ष सत्येन्द्र स्वरुप दुबे , व नवभारत अनूपपुर जिले के ब्यूरो चीफ चैतन्य मिश्रा ने भी श्रद्धांजलि दी , श्रद्धांजलि देने वाले प्रमुख जनों में सर्व श्री :- कमर्शियल सीएस दिलखुश मीणा , मनमोहन साहू , व्हि के जोशी , रेलवे मजदूर कांग्रेस के विवेक कुमार राय , संतोष पनगरे , सदाशिव पांडे , संजीव राव , व्यंकट राव , सुमित कुमार , लोमन प्रसाद राठौर , अमित कुमार , मनीष कुमार , गौतम कर्माकर , थानू सिंह आदि ने श्रद्धांजलि अर्पित की