ALL राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय खेल मध्यप्रदेश राज्य धर्म विचार-विमर्श टेक्नोलॉजी
रिश्वत लेते रंगे हाथ तहसीलदार गिरफ़तार
August 16, 2020 • विनोद पान्डेय • राज्य

तेलंगाना में एंटी करप्शन ब्यूरो ने  किसारा मंडल के तहसीलदार बालाराजू नागाराजू को 28 एकड़ जमीन के संबंध में सत्या डेवलपर्स रियल स्टेट से 1 करोड़ 10 लाख रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ किया गिरफतार 

हैदराबाद/तेलंगाना में एंटी करप्शन ब्यूरो ने  किसारा मंडल के तहसीलदार बालाराजू नागाराजू के घर और अन्य ठिकानों पर छापेमारी की. दरअसल ACB के अधिकारियों ने शुक्रवार को तहसीलदार बालाराजू नागाराजू को 28 एकड़ जमीन के संबंध में सत्या डेवलपर्स रियल स्टेट से 1 करोड़ 10 लाख रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ लिया था. जिसके बाद ये कार्रवाई की गई.किसारा  मडचल-मल्काजगिरी जिले की तहसील है. मडचल-मल्काजगिरी जिला हैदराबाद से काटकर बनाया गया है. एसीबी ने बताया कि 14 अगस्त की रात को नागाराजू के घर पर छापा मारा था.  इसी दौरान रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा. छापे की कार्रवाई 15 अगस्त को सुबह तक चली. रेड में नागाराजू के घर से और 36 लाख रुपये बरामद किए गए. इसके अलावा आधा किलोग्राम के वजन का सोना भी बरामद हुआ. छापेमारी के दौरान बरामद हुई रकम को गिनने के लिए नोट गिनने की मशीन भी मंगाई गई, इसमें 500 के नोट ज्यादा थे. तहसीलदार नागाराजू के घर पर ACB के छापे के दौरान उसकी कार से 8 लाख रुपये कैश और घर से 28 लाख रुपये नगद बरामद हुए. इसके साथ 500 ग्राम सोना, लॉकर की चाभी और अचल संपत्ति के दस्तावेज भी बरामद हुए.तहसीलदार पर आरोप है कि तहसीलदार ने 28 एकड़ जमीन से जुड़ी फाइल को पास करने के बदले यह रिश्वत मांगी थी. एसीबी ने तहसीलदार के साथ ही देहात राजस्व अधिकारी बी साईराज और रियल इस्टेट एजेंटों को भी छापे के बाद हिरासत में लिया.  ACB ने भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत तहसीलदार बालाराजू नागाराजू, रियल स्टेट डीलर के. अंजी रेड्डी और ग्राम राजस्व अधिकारी बी. साई राज के खिलाफ केस दर्ज किया है