ALL राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय खेल मध्यप्रदेश राज्य धर्म विचार-विमर्श टेक्नोलॉजी
पारम्परिक शिक्षा के साथ अब जीवन कौशल शिक्षा भी ऑनलाइन माध्यम से पहुँचायी जाएगी विद्यार्थियों को
May 9, 2020 • विनोद पान्डेय • मध्यप्रदेश

मनोवैज्ञानिक समस्याओं के समाधान के लिए उमंग किशोर हेल्पलाइन 14425 में अभिभावक या बालक कर सकते हैं सम्पर्क
अनूपपुर/    समस्त शासकीय शालाओं में स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा जीवन कौशल शिक्षा का संचालन किया जा रहा है तथा विद्यार्थियों की मनोवैज्ञानिक समस्याओं के समाधान के लिए "उमंग किशोर हेल्पलाईन नंबर-14425" पर संचालित की जा रही है। उल्लेखनीय है कि किशोर अवस्था में विद्यार्थी कई प्रकार की समस्याओं से गुजरते है, जैसे शारीरिक परिवर्तन, पढ़ाई का दबाव, स्व - उत्पीड़न, डराना -धमकाना, अकेलापन, उदासी, चिन्ता, नशा करना आदि जिनका समय पर उचित समाधान न मिलने पर वे भटक जाते हैं, तथा कई बार आत्मघाती कदम उठाने के बारे में सोचने लगते हैं। इसका प्रभाव उनके समुचित विकास पर भी पड़ता     लॉकडाउन के दौरान शारीरिक स्वास्थ्य के साथ-साथ पढ़ाई-लिखाई एवं मानसिक स्वास्थ्य की देखभाल की भी आवश्यकता है। DigiLEP के माध्यम से सोमवार से शुक्रवार व्हाटसएप ग्रुप के माध्यम से शैक्षिक सामग्री शाला स्तर पार बनाए गए समूह में भेजी जाती है। इसके साथ ही अब स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा प्रति शनिवार "जीवन कौशल शिक्षा एवं कैरियर" से संबंधित वीडियो भी भेजे जा रहें है ताकि बच्चों के आत्मविश्वास एवं मनोबल में वृद्धि हो सके।सभी अभिभावकों से अनुरोध है कि बच्चों को जीवन कौशल एवं केरियर से संबंधित वीडियो दिखायें तथा यदि उन्हें कोई समस्या हो तो बच्चा स्वयं अथवा आप भी अभिभावक की हैसियत से हेल्पलाईन से संपर्क कर सलाह प्राप्त कर सकते हैं। इसमें सभी की जानकारी गोपनीय रखी जाती है।