ALL राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय खेल मध्यप्रदेश राज्य धर्म विचार-विमर्श टेक्नोलॉजी
मोटेरा स्टेडियम में डोनाल्‍ड ट्रंप ने की मोदी की तारीफ ,पाक को फटकारा कहा आतंक के खिलाफ एक्शन लेना ही होगा
February 24, 2020 • NEWS NETWORK VISHVA SATTA • राष्ट्रीय

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप सोमवार को गुजरात के अहमदाबाद पहुंचे. यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गले लगाकर उनका स्वागत किया. दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम मोटेरा में डोनाल्ड ट्रंप ने जब ‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम को संबोधित किया, तो भारत और पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ में पुल बांध दिए. डोनाल्ड ट्रंप ने इस दौरान अमेरिका और भारत की दोस्ती का जिक्र किया, साथ ही इस्लामिक आतंकवाद पर अपना कड़ा रुख भी दिखाया पिछले साल सितंबर को ह्यूस्टन  में हुए हाउडी मोदी कार्यक्रम में 50 हजार भारतवंशियों के बीच डोनाल्ड ट्रंप  ने मोदी का जलवा अपने ही देश में देखा था और अब करीब पांच महीने बाद मोटेरा स्टेडियम में हुए नमस्ते ट्रंप कार्यक्रम में सवा लाख भारतीय नागरिकों के बीच ट्रंप ने मोदी की तारीफों की झड़ी लगाने में कोई कसर नहीं छोड़ी ट्रंप के लिए यह राष्ट्रपति चुनाव का वर्ष  है. अमेरिका में भारतवंशी बड़ी संख्या में हैं. वे अगर ट्रंप की तरफ झुक गए, तो उनकी नैया दूसरी बार पार होने में कोई शंका नहीं रहेगी. ऐसा हुआ तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  अप्रत्यक्ष रूप से ही सही, डोनाल्ड ट्रंप के लिए स्टार प्रचारक ही साबित होंगे और ऐसा करिश्मा कर सकने वाले वे पहले भारतीय नेता होंगे. मोटेरा के भव्य नमस्ते ट्रंप  कार्यक्रम के बाद यह सोचना भी अजीब लगता है कि एक समय था, जब अमेरिका ने मोदी को वीजा देने तक से इनकार कर दिया था. नमस्ते ट्रंप कार्यक्रम इस बात का सबसे बड़ा गवाह कि वक्त सही को सही साबित करने में वक्त भले लगाता हो, लेकिन वह ऐसा करके जरूर रहता है.आतंकवाद पर भी उन्होंने मोदी सरकार के ही रुख पर मुहर लगाई. उन्होंने बाकायदा पाकिस्तान का नाम लेकर कहा कि उसे अपनी जमीन पर आतंकवाद का पोषण खत्म करना होगा. जब ट्रंप पाकिस्तान पर बरस रहे थे, तब दुनिया के सबसे बड़े मोटेरा स्टेडियम में बैठे सवा लाख लोगों ने तालियों की गड़गड़ाहट से उनका समर्थन किया. जाहिर है कि पिछले दिनों लीक से हटकर दो-तीन बार उन्होंने भारत और पाकिस्तान के बीच कश्मीर मसले पर मध्यस्थता का सुझाव देकर जो कूटनीतिक गलती की थी, उसकी याद उन्हें थी और यही वजह है कि मोटेरा में उन्होंने आतंकवाद के मसले पर पाकिस्तान को खुलेआम आड़े हाथों लिया. ट्रंप ने साफ-साफ कहा कि भारत की तरह अमेरिका भी आतंकवाद का शिकार रहा है और हम कट्टर इस्लामिक आतंकवाद से निपटने के लिए भी साथ हैं.उन्होंने कहा कि हमारे नागरिकों की सुरक्षा पर खतरा बनने वालों को बड़ी कीमत चुकानी होगी. लेकिन यह कह कर उन्होंने पाकिस्तान के जख्म पर थोड़ा मरहम भी लगा दिया कि ट्रंप प्रशासन पाकिस्तान के साथ बात कर रहा है. हमारे पाकिस्तान ) से अच्छे संबंध हैं. हमें लग रहा है कि पाकिस्तान कुछ कदम उठा रहा है. यह पूरे दक्षिण एशिया के लिए जरूरी है. व्यापार के क्षेत्र में उन्होंने अमेरिका को भारत का बड़ा सहयोगी बताया. उन्होंने कहा कि तीन अरब डॉलर का रक्षा करार होने की कगार पर है. अमेरिका को भारत का सबसे बड़ा डिफेंस पार्टनर होना चाहिए. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  ने भी अमेरिका को भारत का सच्चा हितैषी करार दिया. उन्होंने कहा कि प्रेसिडेंट ट्रंप की ये यात्रा, भारत और अमेरिका के संबंधों का नया अध्याय है. एक ऐसा अध्याय जो अमेरिका और भारत के लोगों की तरक्की और खुशहाली का नया दस्तावेज बनेगी. जाहिर है कि अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में हुआ यह मेगा शो भारत और अमेरिका के लिए ही महत्वपूर्ण नहीं है, पूरी दुनिया की इस सकारात्मक जमावड़े पर नजर रही होगी. खास तौर पर पाकिस्तान, रूस, चीन और जापान की. ट्रंप ने भारत दौरे में जिस तरह आतंकवाद की भर्त्सना कर बाकायदा नाम लेकर पाकिस्तान को कूटनैतिक ठेंगा दिखाया है, 
डोनाल्ड ट्रंप ने अपने भाषण में क्रिकेट का भी जिक्र किया. डोनाल्ड ट्रंप बोले कि भारत ने दुनिया को सचिन, विराट कोहली जैसे बड़े खिलाड़ी दिए हैं जो दुनिया के लिए हीरो हैं.अमेरिकी राष्ट्रपति बोले कि भारत हर साल 2000 से अधिक फिल्में बनाता है, जो बॉलीवुड है. पूरी दुनिया में इसका स्वागत किया जाता है, लोग भांगड़ा-म्यूज़िक का जिक्र करते हैं, लोगों को DDLJ-शोले भी काफी पसंद है