ALL राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय खेल मध्यप्रदेश राज्य धर्म विचार-विमर्श टेक्नोलॉजी
मनोबल को बनाये रखने में को-विन एक्शन नेटवर्क बना सहायक  - डॉक्टर विनय सहस्त्रबुद्दे  
April 16, 2020 • NEWS NETWORK VISHVA SATTA • राज्य

दिल्ली /कोविन एक्शन नेटवर्क पर  दर्जनों ऐसे लोग जुड़ रहे हैं  जो लॉकडाउन में तनाव, हताशा और मनोवैज्ञानिक समस्यायों से जूझ रहे हैं । ऐसे में इस नेटवर्क को मार्गदर्शन दे रहे राज्यसभा सांसद डॉक्टर विनय सहस्त्रबुद्दे ने फौरन ऐसे लोगों की मदद की पहल की और अपने सहयोगियों के जरिए उन उपायों को तलाशा जिससे पीड़ितों को फौरन राहत मिले । उनके मनोबल को मजबूत किया जा सके । सहस्त्रबुद्दे ने कोविन वॉरियर्स से अपील की है कि वो फौरन संचार के साधनों से  ऐसे लोगों तक पहुंच बनाये और उन तक हर संभव समाधान पहुंचायें ।  सहस्त्रबुद्दे की इस अपील पर को-विन एक्शन नेटवर्क ने देश के दिग्गज मनोचिकित्सक डॉक्टर हरीश शेट्टी को अपने प्लेटफार्म पर आमंत्रित किया और ऐसे लोगों से संवाद स्थापित करवाया जो इस तरह की समस्याओं से लड़ रहे हैं । हरीश शेट्टी ने बहुत सरल और प्रभावी तरीके से लोगों तक अपनी बात रखते हुए कहा कि भीतर के हिम्मत और धैर्य को जगाइये । उन्होंने जो सबसे जरूरी बात कही वो ये कि इस वक्त आप किसी भी नकारात्मक को अपने पास आने मत दीजिए । समस्या के बारे में नहीं समाधान के बारे में सोचे । शेट्टी ने डायबिटीज और बीपी के मरीजों को सलाह दी कि वो इसे नियंत्रण में रखें और अच्छी डायट ले । नियमित एक्सरसाइज पर जोर देते हुए डॉक्टर शेट्टी ने कहा कि स्वस्थ शरीर और मजबूत दिमाग ही किसी वायरस को हरा सकता है । फेसबुक लाइव के जरिए नेटवर्क से जुड़े छात्रों और महिलाओं से बात करते हुए शेट्टी ने कहा कि हर हाल में अपने दिमाग की हिफाजत करें । उसे भविष्य की चिंताओं से बिल्कुल मुक्त रखें, अपने सपनों को बचा कर रखे और तैयारी के साथ बेहतर वक्त का इंतजार करें । उन्होंने कोविन एक्शन नेटवर्क से जुड़े पीडितों को सलाह दी कि सिर्फ और सिर्फ वर्तमान में जियें । आज और अभी को बेहतर बनायें । भूत और भविष्य की चिंताओं से खुद को मुक्त करें । समस्या गंभीर हो इससे पहले फौरन अपने आस- पास के मनोचिकित्सक की मदद लें और तुरंत उनसे फोन पर बात करें । जानी मानी  यूट्यूबर प्रियंका देव के माध्यम से उन्होंने लोगों को बताया कि हमारे देश की सबसे बड़ी ताकत है परस्पर सहयोग और एक दूसरे को जीने में मदद करना । यही वजह है कि हम सदियों से हमारे देश की हस्ती कायम है और इस बार भी हमारा देश इस आपदा पर विजय प्राप्त करेगा । कोविन एक्शन नेटवर्क की इस पहल को भी उन्होंने इस परंपरा का उदाहरण बताया ।  डॉक्टर सहस्त्रबुद्दे और उनकी पूरी टीम ने डॉक्टर शेट्टी के प्रति कृतज्ञता ज्ञापित की । और उन्हें विश्वास दिलाया कि हम अपने आस-पास और परिचितों में ऐसे लोगों की ज्यादा से ज्यादा पहचान करेंगे और तुरंत उनकों किसी मनोचिकित्सक से संपर्क करवायेंगे ताकि इस आपदा से निपटने के लिए वो पूरे जोश के साथ तैयार रहे ।