ALL राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय खेल मध्यप्रदेश राज्य धर्म विचार-विमर्श टेक्नोलॉजी
लोकायुक्त ने सहायक संचालक उद्यानिकी उमरिया को 10000 की रिश्वत लेते किया रंगे हाथों ट्रैप
October 14, 2020 • विनोद पान्डेय • मध्यप्रदेश

सहायक संचालक उद्यान जिला उमरिया ने शिकायतकर्ता ग्रामीण विकास उद्यान अधिकारी मस्तराम सिंह से उनका एक बिल पास करने के लिए दस प्रतिशत राशि रिश्वत में मांग की गई थी जिस पर लोकायुक्त द्वारा ट्रैप की कार्यवाही की गई. 

उमरिया /लोकायुक्त पुलिस ने आज यहां सहायक संचालक उद्यान जिला उमरिया को दस हजार रूपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हांथ गिरफ्तार कर लिया । प्राप्त जानकारी के अनुसार सहायक संचालक उद्यानिकी राम अभिलाष साकेत पिता दशरथ प्रसाद साकेत उम्र 49 वर्ष पता ग्राम मझियार थाना बैकुंठपुर तहसील सिरमौर जिला रीवा ने अपने ही विभाग में पदस्थ ग्रामीण विकास उद्यान अधिकारी मस्तराम सिंह पिता श्री ग्वागल सिंह उम्र 50 वर्ष से रिश्वत की मांग की थी। मस्तराम सिंह की शिकायत पर  लोकायुक्त पुलिस रीवा ने छापे की कार्रवाई की है।बताया गया है कि वर्ष 2019 में कृषक प्रशिक्षण सह भ्रमण कार्यक्रम के आयोजन में मस्तराम सिंह ने 184800 व्यय किए थे। उक्त प्रशिक्षण कार्यक्रम के बिल भुगतान हेतु शिकायत कर्ता द्वारा बिल प्रस्तुत किया गया था  जिसे सहायक संचालक उद्यान जिला उमरिया के द्वारा उक्त बिल स्वीकृत नहीं किए गए। बिल स्वीकृत करने के लिए राम अभिलाष साकेत सहायक संचालक उद्यान जिला उमरिया द्वारा रिश्वत के रूप में राशि 184800 का 10 परसेंट रुपए रिश्वत की मांग कर रहे थे । लोकायुक्त पुलिस ने बताया कि प्रक्रिया के तहत शिकायत प्राप्त होने के बाद उसकी प्राथमिक जांच की गई जिसमें शिकायत सही पाई गई। फिर योजना बनाकर शिकायतकर्ता को ₹10000 सहित रिश्वत देने के लिए सहायक संचालक के घर भेजा गया। रिश्वत की रकम का लेनदेन होते ही लोकायुक्त की टीम ने छापामार कार्रवाई की गई.