ALL राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय खेल मध्यप्रदेश राज्य धर्म विचार-विमर्श टेक्नोलॉजी
283 प्रवासी श्रमिकों को भेजा गया उनके गृह ज़िले
May 8, 2020 • विनोद पान्डेय • मध्यप्रदेश

अनूपपुर लौटकर आए 78 प्रवासी श्रमिक रखे गए क्वॉरंटीन में,श्रमिकों ने मुख्यमंत्री श्री चौहान के प्रति व्यक्त किया आभार


अनूपपुर/ प्रदेश के बाहर मध्यप्रदेश के श्रमिकों को वापस लाने का क्रम जारी है। शासन द्वारा विशेष श्रमिक ट्रेन एवं बसों के माध्यम से सुरक्षित रूप से उनके गृह ज़िलों तक भेजे जाने का प्रयास किया जा रहा है। इस दौरान आगंतुक श्रमिकों की स्वास्थ्य जाँच एवं भोजन की व्यवस्था के साथ उन्हें कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु आवश्यक सावधानियों एवं उपायों कीं जानकारी दी जा रही है एवं उन्हें अपनाने हेतु प्रेरित किया जा रहा है। इसी क्रम में आज अनूपपुर ज़िले में समाचार लिखे जाने तक 361 श्रमिकों का आगमन हुआ। जिनमे से 283 श्रमिक जो अन्य जिलो प्रदेश के निवासी थे उनकी प्राथमिक स्वास्थ्य जाँच एवं जलपान व्यवस्था के बाद उनके गृह ज़िले के लिए भेजा गया। आज शहडोल के 64, उमरिया के 37, रीवा के 30, सीधी के 29, सतना के 4 एवं सिंगरौली के 1 श्रमिक सहित उत्तरप्रदेश हेतु 38 एवं छत्तीसगढ़ के लिए 80 श्रमिकों को शासकीय सुविधा से रवाना किया गया।इसके साथ ही गुजरात, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ एवं आँध्रप्रदेश सहित मध्यप्रदेश के अन्य ज़िलों से आज 78 श्रमिक जो कि अनूपपुर के मूल निवासी हैं का आगमन हुआ, जहाँ उन्हें स्वास्थ्य जाँच उपरांत विभिन्न संस्थागत क्वॉरंटीन केंद्रो में भेज दिया गया। वर्तमान में 57 संस्थागत क्वॉरंटीन केंद्र/आश्रय स्थलों में 889 श्रमिक एवं नागरिक निवासरत हैं। अपने गृह ग्राम तक सकुशल आने की ख़ुशी इन श्रमिकों द्वारा बता पाना शायद सम्भव नहीं परंतु इनकी आँखों में छुपी ख़ुशी, सुरक्षा एवं संतुष्टि का भाव एवं प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान के प्रति आदर एवं आत्मीयता के स्वर, शासन के प्रयास के महत्व को बखूबी बयाँ करते हैं।